नोएडा में फ्लैट, दुकान और जमीन खरीदना हुआ सस्ता

नोएडा, अब नोएडा में फ्लैट, भूखंड, दुकान आदि संपत्ति खरीदना सस्ता हो गया है। संपत्ति की खरीद-फरोख्त पर लगने वाले हस्तांतरण शुल्क में कमी कर दी गई है। अब अलग-अलग तरह की संपत्ति पर 2.5 से लेकर पांच प्रतिशत तक शुल्क लगा करेगा। अभी तक यह पांच से 10 प्रतिशत था। इस निर्णय को शुक्रवार को हुई बोर्ड बैठक में मंजूरी दे दी गई।

सेक्टर-6 कार्यालय में नोएडा प्राधिकरण की 203वीं बोर्ड बैठक हुई। बोर्ड बैठक में 25 प्रस्ताव रखे गए। बैठक में सबसे महत्वपूर्ण हस्तांतरण शुल्क कम करने को मंजूरी दे दी गई। अधिकारियों ने बताया कि आवासीय ग्रुप हाउसिंग के भूखंड/भवन, भूखंड व भवन के शुल्क को पांच से घटाकर 2.5 प्रतिशत कर दिया गया है। हस्तांतरण शुल्क प्राधिकरण से पहली बार आवंटित संपत्ति पर नहीं लगता है। उस समय निबंधन विभाग में सिर्फ पांच प्रतिशत शुल्क स्टांप के रूप में देना पड़ता है। इसके बाद दूसरी बार संपत्ति की खरीद-फरोख्त होने पर प्राधिकरण में हस्तांतरण शुल्क लगना शुरू हो जाता है। इसके अलावा स्टांप का पांच प्रतिशत शुल्क अलग से देना पड़ता है। ऐसे में खरीदारों पर काफी आर्थिक बोझ पड़ जाता है। 

श्रमिक कुंज के लिए 12 हजार रुपये, ईडब्लूएस व एलआईजी भवनों में वर्तमान दर का एक प्रतिशत व बाकी श्रेणी के भवनों के हस्तांतरण वर्तमान दर का 2.5 प्रतिशत लिया जाएगा। पहले आवासीय भवनों की हस्तांतरण शुल्क की गणना काफी जटिल होती थी। वर्ष 1990 तक के आवंटन शुल्क का 50 प्रतिशत वर्ष 1991 से 2000 तक भवनों में 20 प्रतिशत, वर्ष 2002 से 2010 तक 10 प्रतिशत और वर्ष 2011 के बाद भवनों में कुल आवंटन का पांच प्रतिशत होता था। 

श्रमिक कुंज के हस्तांतरण शुल्क में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। वहीं, संस्थागत क्रियाशील भूखंडों के हस्तांतरण शुल्क को 10 प्रतिशत से कम कर पांच प्रतिशत कर दिया गया है। यही नहीं, वाणिज्यिक निर्मित दकानों, क्योस्क का हस्तांतरण शुल्क वर्तमान दर का 2.5 प्रतिशत अन्य वाणिज्यिक भूखंडों का (स्पोर्ट्स सिटी को छोड़कर) हस्तांतरण शुल्क पांच प्रतिशत किया गया। पहले पांच साल तक 1500 प्रति वर्ग मीटर, अथवा कुल मूल्य का 10 प्रतिशत, जो भी अधिक हो एवं पांच साल से आगे यह धनराशि 10 प्रतिशत वृद्धि के साथ आगणित मूल्य अथवा कुल प्रमियम के 10 प्रतिशत धनराशि में से जो अधिक हो, लिए जाने का प्रावधान था। 

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDigg

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper