शाहीन बाग में बुर्का पहन बना रही थी वीडियो, प्रदर्शनकारियों ने पकड़ा

दिल्ली,  शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में राजनीतिक विश्लेषक गुंजा कपूर (Gunja Kapoor) के बुर्का पहन कर जाने और वहां का वीडियो बनाने पर हंगामा खड़ा हो गया। पुलिस ने उन्हें वहां से बाहर निकाल लिया है और अब उनसे पूछताछ की जा रही है। 

बुधवार दोपहर शाहीन बाग में उस वक्त अफरा-तफरी का माहौल हो गया जब लोगों को पता चला कि गुंजा कपूर प्रदर्शनकारियों के बीच बुर्का पहनकर मौजूद हैं और उनका वीडियो बना रही है। इस बात को जानने के बाद प्रदर्शनकारी गुस्से में आ गए। उन्होंने गुंजा के साथ धक्का-मुक्की शुरू कर दी। पुलिस को जैसे ही इस बात की सूचना मिली उनको तुरंत वहां से बाहर निकाला गया। 

इसके बाद पुलिस का बयान आया है कि राजनीतिक विश्लेषक गुंजा कपूर से पूछताछ जारी है। उन्होंने बुर्का पहना हुआ था और वो शाहीन बाग में प्रदर्शकारियों के बीच भी गईं थी। गुंजा गोमतीनगर, लखनऊ की रहने वाली है।


बता दें कि करीब डेढ़ महीने से ज्यादा समय से शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ धरना प्रदर्शन हो रहा है। पूरे देश में शाहीन बाग चर्चा का विषय बना हुआ है। वहीं दिल्ली में शाहीन बाग को लेकर जमकर राजनीति भी हो रही है। बीजेपी दिल्ली विधानसभा चुनावों के बीच आक्रामक रुख अपनाते हुए आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर शाहीन बाग के लोगों का समर्थ करने और उनका सहयोग करने का आरोप  लगा रही है। दरअसल, शाहीन बाग के प्रदर्शन के चलते लंबे समय शाहीन बाग और कालिंदी कुंज रोड बंद है। जिसके चलते नोएडा से दिल्ली आने वाले लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  
वहीं एक फरवरी को शाहीनबाग में गोली चलाने की घटना भी सामने आई थी। कपिल गुर्जर नाम के शख्स ने शाहीन बाग में गोलियां चलाई थी। हालांकि इस गोलीबारी में कोई घायल नहीं हुआ, लेकिन इस घटना के बाद से इस मुद्दे पर जमकर राजनीति हो रही है। वहीं मंगलवार को दिल्ली पुलिस ने आरोपी कपिल गुर्जर के फोन की जांच के बाद खुलासा किया कि उसका संबंधन आम आदमी पार्टी से रहा है। उसने और उसरे पिता गजे सिंह गुर्जर ने साल 2019 में आप पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी। हालांकि आम आदमी पार्टी ने इस बात का खंडन किया है। वहीं आरोपी के पिता गजे सिंह गुर्जर ने भी आम आदमी पार्टी से किसी भी प्रकार का संबंध होने से इनकार किया है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.