भगवत प्राप्ति के लिए। जब भक्त। बढ़ता है तो माया उसे घेर लेती है : मृदुल कृष्ण

खुर्जा। श्री नव दुर्गा शक्ति मंदिर के रजत जयंती महोत्सव के अवसर पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के पंचम दिन कथा श्रवण कराते हुए कथा व्यास आचार्य मृदुल कृष्ण जी महाराज। ने कहा गीता में भगवान ने चार प्रकार के भक्त भक्त बताए हैं। ज्ञानी। आरत जिज्ञासु। और अर्थाति जिज्ञासु भक्त परीक्षित हैं उद्धव ज्ञानी भक्त हैं गजेंद्र आरत भक्त हैं और अर्थाति भक्त ध्रुव हैं। भगवत प्राप्ति के लिए। जब भक्त। बढ़ता है तो माया उसे घेर लेती है माया का अर्थ है मां माने नहीं। या माने जो अर्थात जो नहीं है उसे दिखाना माया है जब तक माया का पर्दा हटता नहीं तब तक प्राणी को प्रभु के दर्शन नहीं होते हैं भक्त ध्रुव जिस छवि का ध्यान अपने अंदर कर रहे हैं। भगवान भी उसी रूप में ध्रुव जी को दर्शन दे रहे हैं। भगवान कहते हैं जहां मेरे नाम का अखंड संकीर्तन होता है। वहां मेरा वास होता है तथा प्रवर ने भागवत और गीता में अंतर बताते हुए कहा। भागवत जी में 18000 श्लोक हैं और गीता में 700 श्लोक हैं। भागवत जी स्वयं कृष्ण हैं और गीता श्री कृष्ण की वाणी है महाराज जी ने कहा। वह राष्ट्र। समाज परिवार भूमि पवित्र हो जाती है जहां संत और भगवान के भक्त पधारते हैं। भक्त पहलाद की कथा सुनाते हुए महाराज श्री ने कहा जो भगवान के भक्तों का अपमान करता है वह नरक में जाता है। भगवान ने भक्त पहलाद की 21 पीढ़ियों का उद्धार किया देवासुर संग्राम में देवताओं को अमृत प्राप्त हुआ वामन अवतार की कथा सुनाते हुए कहा राजा बलि ने भगवान को तीन भागों में सर्वस्व दान कर दिया। मत्स्य अवतार की कथा सुनाई महाराज जी ने सूर्यवंश की वंशावली सुनाते हुए राम जन्म की कथा सुनाई चंद्र वंश की वंशावली सुनाते हुए भगवान श्री कृष्ण के जन्म की कथा सुनाते हुए कहा दुष्टों आतंकियों का संहार करने और धर्म की स्थापना करने के लिए भगवान ने अवतार लिया नंद बाबा के घर श्री। कृष्ण। का जन्म हुआ बधाइयां गाई जाने लगी नंदोत्सव में भक्त प्रभु नाम की मस्ती में झूमने लगे नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की ब्रज में है रही जय जयकार नंद घर लाला जायो री वहीं कथा के दौरान। मुख्य अतिथि के रूप में भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष। अनिल सिसोदिया। के अलावा। संजय गुर्जर। क्षेत्रीय विधायक विजेंद्र सिंह। ने माता रानी के दर्शन प्राप्त कर। महाराज के श्री मुख से। कथा का श्रवण किया। यजमान में। श्री प्रभात जैन। निमिष कुमार गर्ग प्रवीण सिंघल विवेक अग्रवालए जगदीश गुप्ता एन एस गुप्ता अनिमेष गुप्ता निशांत महेश भार्गव राकेश भार्गव डीसी गुप्ताए जितेंद्र कुमार बंसल प्रमोद भारद्वाज अविनाश बंसल प्रदीप मित्तल संजीव गोयल अंकित अग्रवाल डॉक्टर राजेंद्र शर्माए शिव प्रसाद शर्माए राहुल अग्रवालए राजेश शर्मा आकाश जैन रहे। कथा की व्यवस्था में राजकुमार बंसल के के बंसल गोपाल तायल सुशील गोयनका रोहित अग्रवालए अनिल महाराजा प्रमोद वर्मा विकास वर्मा मनोज गुप्ता। राकेश गुप्ता सचित गोविल मनीष गुप्ता। डॉ नरेश शर्माए देवेश कौशिक संजय वर्माए संजय मंगल रवि शंकर अग्रवाल संजयए गौड़। प्रमोद भारद्वाज एडवोकेट। अरुणा सिंह रिंपी वर्मा पूजा बत्राए मूलचंद डॉ राकेश शर्माए गुलशन धर्मेंद्र दीपक जादौन रानी शर्मा संजू सिसोदिया रहे। शुक्रवार को। माता रानी की। 25 वीं वर्षगांठ के अवसर पर। पूरे मंदिर प्रांगण को। भव्य फूल बंगले से। सजाया गया। माता रानी के दर्शन भक्तों के लिए सारे दिन खुले रहे। तथा भक्तों को हलवे का प्रसाद वितरित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *