पेपर बैग बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें

पेपर बैग बनाने का व्यापार एक बेहद ही अच्छा व्यापार है. तात्कालिक समय में पर्यावरण में हो रहे प्रदूषण को कम करने के लिए प्लास्टिक बैगों का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है. कई राज्यों में इनका प्रयोग करना एक दम बंद कर दिया गया है. इस वजह से आजकल पेपर बैग का ज्यादा इस्तेमाल किया जाने लगा है. ये बैग देखने में भी प्लास्टिक बैग से अधिक स्टाइलिश होते है. अतः अगर कोई इस व्यापार को शुरू करता है, तो उसे काफी फायदा हो सकता है. आमतौर पर इन बैगों का प्रयोग शौपिंग मॉल, गिफ्ट स्टोर और कपड़े की दुकानों में काफी अधिक किया जाता है.

बैग बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए आवश्यक है पंजीकरण

इस व्यापार को आरम्भ करने के लिए आपको आपके स्थानीय मुनिसिपलिटी से ट्रेड लाइसेंस और सरकार की तरफ से उद्योग आधार संख्या लेने की आवश्यकता होती है. सरकार से तात्कालिक समय में इस व्यापार के लिए फण्ड भी प्राप्त किया जा सकता है. आप एमएसएमई के अंतर्गत पंजीकरण करा कर सरकार की तरफ से अपने व्यापार के लिए फण्ड प्राप्त कर सकते हैं.

पेपर बैग बनाने के लिए कई तरह की विशेष सामग्री की आवश्यकता होती है. इस दौरान इस्तेमाल होनेवाली सामग्री के बारे में नीचे जानकारी दी गई है तथा इनकी कीमतें भी बताई गई हैं-

सामग्रीकीमत
सफ़ेद और रंगीन पेपर रोल45 रू प्रति रोल
फ्लेक्सो कलर180 रू प्रति किलोग्राम 
पोलीमर स्टीरियो1.6 रूपए प्रति सेंटीमीटर  

पेपर बैग बनाने की मशीन की कीमत (Paper Bag Making machine price):

इस व्यापार के लिए पेपर बैग मेकिंग मशीन की आवश्यकता होती है. इस मशीन की सहायता से आप कम समय में अधिक बैग बना कर एक बेहतरीन व्यापार कर सकते हैं. इस मशीन की कीमत न्यूनतम 3 लाख से आरंभ होती है. इसी तरह आप कम लागत में पेपर प्लेट बनाने का व्यापार शुरू कर सकते है.

पेपर बैग बनाने की मशीन की जानकारी  (Paper Bag Making machine information)

नीचे बताई गई सभी सुविधाएं इस मशीन में मौजूद है कि नहीं ये अवश्य देख लें. आपको इन्हें अलग से खरीदनें की आवश्यकता नहीं होती है. अतः मशीन खरीदने से पहले इन सुविधाओं की जांच कर लें.

1डबल कलर/ फोर कलर फ्लेक्सो प्रिंटिंग यूनिट अटैचमेंट
2मेन ड्राइव के लिए 3 हॉर्स पॉवर का मोटर
3फ्लैट फोर्मिंग डाई
4स्टीरियो डिजाईन रोलर

कहां से खरीदे पेपर बैग मेकिंग मशीन (Place to buy paper bag Manufacturing machine)

पेपर बैग मेकिंग मशीन आसानी से बाजारों में मिल जाती है. इतना ही नहीं ये मशीन आसानी से ऑनलाइन भी खरीदी जा सकती है. अगर आप इस मशीन को खरीदना चाहते हैं तो  https://www.indiamart.com/ या फिर https://india.alibaba.com/index.html  लिंक पर जाकर इसे वहां से खरीद सकते हैं

घर में पेपर बैग बनाने की प्रक्रिया  (Paper Bag Making or Manufacturing process in home in hindi)

पेपर बैग को बनाने के लिए जरूरी नहीं है कि मशीन का ही इस्तेमाल किया जाए. आप पेपर बैग को हाथों से भी बना सकते हैं. पेपर बैग को किस तरह हाथों से बनाया जाता है इसका वर्णन नीचे किया गया है.

इस व्यापार पर आने वाली कुल लागत (Total Cost to setup business):

इस व्यापार में न्यूनतम लागत कम से कम 3-5 लाख तक की आती है. आपको मशीन के अतिरिक्त अन्य सामानों को खरीदने के लिए कुल 1.5 लाख रूपए तक की आवश्यकता पड़ती है.सिल्वर पेपर बनाने का व्यापार भी कम लागत में शुरू कर सकते है.

इस व्यापार से लाभ (Profit in Business):

इस व्यापार में इस्तेमाल होने वाली स्वचालित मशीन एक मिनट में लगभग 60 बैग बना सकती है. आम तौर पर देखा जाता है कि प्रत्येक बैग पर कुल 10 पैसे का लाभ होता है. इस तरह से प्रत्येक मिनट आपको 6 रुपए का लाभ प्राप्त हो सकता है. यदि प्रोडक्शन और मार्केटिंग में सुचारू रूप से तालमेल बना ले, तो आपको प्रत्येक दिन लगभग 2800 रूपए यानि मासिक तौर पर लगभग 70,000 रूपए की आमदनी होगी.

विभिन्न साइज के बैग (Type of bag):

बाजार में सभी साइज के बैग नहीं चलते हैं. वहीं कुछ बैग के साइज ऐसे होते हैं, जिनकी डिमांड बाज़ार में हमेशा बनी रहती है. इसलिए आप ऐसे साइज़ के बैग बनाएं जिनकी डिमांड बाजार में ज्यादा होती हो. वहीं नीचे आपको बैग के कुछ विशेष साइजों के बारे में बताया गया है, जिसकी मार्केटिंग आसानी से हो जाती है.

संख्याबैग के साइज
14.25X 6
25.25X7.5
36.75X8.5
48.25X10
59.75X12.75
610.5X16

कैसे करें ब्रांडिंग 

इस व्यापार को बेहतर तरीके से चलाने के लिए आपको अथवा आपके वर्कर का क्रिएटिव होना जरूरी है. आपको बैग को हर तरह से आकर्षक बनाने की जरुरत होती है. आप इसके लिए ग्राफ़िक्स डिजाईनर की भी मदद ले सकते हैं. आप अपनी कंपनी के लिए एक विशेष डिजाईन का प्रयोग कर सकते हैं. इस डिजाईन का प्रयोग करके आप अपनी कंपनी की ब्रांडिंग कर सकते हैं.

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Translate »