मथुरा : श्रद्धालुओं के लिए खुला बांके बिहारी मंदिर का कपाट, आनलाइन पंजीकरण

मथुरा. वृंदावन के विश्व प्रसिद्ध बांके बिहारी मंदिर (Banke Bihari Temple) के कपाट 6 माह 25 दिन बाद श्रद्धालुओं के लिए शनिवार से खुल गए हैं. कपाट खुलने के साथ ही मंदिर के बाहर लोगों की भारी भीड़ दिखाई दी. कान्हा के भक्त बड़ी संख्या में जिस तरह से खड़े दिखाई दिए उसे देख यही कहा जा सकता है कि इस दौरान कोविड-19 की गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गई. उधर, सेवायत गोस्वामी द्वारा समय से कपाट न खोलने से यह भीड़ ओर बढ़ती चली गयी और भक्तों को लंबी कतार कुछ ही सेकंडों में बढ़ती चली गई. बता दें कि कोरोना काल में 22 मार्च से वृंदावन के विश्व प्रसिद्ध बांके बिहारी मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए थे.

भले ही कोरोना से बचाव के लिए मंदिर प्रबंधन ने पूरे इंतजाम कर रखे हों लेकिन इस बीच शनिवार को बांके बिहारी मंदिर के गेट के बाहर गलियों में श्रद्धालुओं की लंबी कतार देखने को मिली. वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं. कोरोना काल में मंदिर के बाहर जो तस्वीर देखने को मिली वो परेशान करने वाली थी.

कोविड-19 की एडवाइजरी का पालन
सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक और शाम साढ़े पांच बजे से रात साढ़े नौ बजे तक ठाकुर जी भक्तों को दर्शन देंगे. एक दिन में सुबह 200 और शाम को 200 श्रद्धालु ही दर्शन कर सकेंगे. 10 साल से छोटे बच्चे और 65 साल से अधिक उम्र के लोगों के अलावा गर्भवती महिलाओं और संक्रमित बीमारी से ग्रसित लोगों को भी प्रवेश नहीं मिलेगा.

शनिवार शाम के बाद मंदिर की वेबसाइट पर आनलाइन पंजीकरण कराने पर ही मंदिर में प्रवेश मिलेगा. वेबसाइट www.shreebankeybihari.com पर आनलाइन पंजीकरण कराने के बाद ही भक्तों को प्रवेश मिलेगा.

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Translate »