अर्द्धसैनिक बल तैनात, उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश, अब तक 13 मौत

दिल्ली, अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के रवाना होते ही राजधानी दिल्ली में सीएए के विरोध और सर्मथन में हो रहे प्रदर्शन में उपद्रवियों पर अब पुलिस एक्शन मोड में गई है। पुलिस ने उत्तर पूर्वी दिल्ली के अधिकांश इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया है। अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। सूत्रों के मुताबिक उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स को उन्हें देखते ही गोली मारने के आदेश भी दिए गए हैं। हिंसा के कारण मंगलवार को भी कई मेट्रो स्टेशन बंद रहे। 

Live Updates:

  • दिल्ली मेट्रो के सभी स्टेशन से एंट्री और एग्जिट गेट खोले गए

इसी बीच गृहमंत्री ने हालातों पर काबू पाने के लिए सीनियर आईपीएस एस.एन.श्रीवास्तव को स्पेशल सीपी लॉ आर्डर बनाया है जो हो रही ङ्क्षहसा को रोकने का काम करेगें। बता दें कि इससे पहले सोमवार के बाद मंगलवार को भी उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों उपद्रवियों ने गोलियां चलाई,गाड़ियों को फूंका और पुलिस पर पत्थर बाजी की। मंगलवार दोपहर तक इस इलाके  के हालात बेहद खराब थे। उपद्रवियों ने जहां कई मकानों में आग लगाई वहीं उपद्रवियों ने एक दूसरे के बीच गोलियां भी चलाई। चली गोली एक चैनल के पत्रकार समेत 3 लोगों को लगी है। अब तक हिंसा प्रभावित इस इलाके में 14 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 186 लोग घायल है। इनमें से 12 की हालत गंभीर है। इन घायलों में 25 पुलिसकर्मी भी है।
इसके अलावा अब इस दशहत की आग राजधानी के लक्ष्मीनगर इलाके,साऊथ दिल्ली समेत पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में फैल गई है। इन इलाको में देर शाम बाजार बंद कर दिए गए है। हालातों को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने देर शाम तनावपूर्ण इलाकों में पैरामिलट्री फोर्स को तैनात किया है। हालातों को देखते हुए मौजूदा समय में मौजपूर और जाफराबाद के 4 थाना क्षेत्रों में कफ्यू लगा दिया गया है,साथ ही इस इलाके की इंटरनेट सेवा और ट्रांसपोर्ट सेवा बंद कर दी गई है।

उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर, चौहानबांगर, जाफराबाद, बाबरपुर और सीलमपुर के इलाको  में बीते 48 घंटो से लगातार रुक रुक कर पत्थरबाजी होती रही। सीलमपुर से लेकर गौकुलपुरी चौराहे के बीच करीब 7 किलोमीटर की सड़क दुकानों में आगजनी की हुई है। इसके अलावा इस इलाके में कई घरों सहित वाहनों में आग लगने से धुएं का गुबार कई जगह से उठता देखा गया। सड़कों पर भीड़ बिना किसी रोक-टोक के नजर आई। भीड़ में शामिल लोग पत्थर बरसा रहे थे, दुकानों में तोडफ़ोड़ कर रहे थे और स्थानीय लोगों को धमका रहे थे। हिंसा प्रभावित इलाकों में उपद्रवी लाठी, पत्थरों और रॉड से लैस उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया।

मौजपुर में दंगाइयों ने सड़क पर लोगों की पिटाई की और ई-रिक्शा व अन्य वाहनों पर भी अपना गुस्सा निकाला। कई पत्रकारों से भी धक्का-मुक्की की गई और उन्हें वापस जाने को कहा गया। देर शाम उपद्रवियों ने शाहदरा के अशोक विहार इलाके की एक मस्जिद को निशाना बनाया और वहां पर तोडफ़ोड़ की। इसी बीच जाफराबाद में उपद्रवियों ने तीन गाड़ियों को फूंक दिया है। इसके अलावा जाफराबाद इलाके में ही 22 दूकानों को तोड़ा गया है और उनमें लूटपाट की गई है। इसके अलावा मौजपुर इलाके में 3 वाहनों समेत एक घर में आग लगा दी गई।

  • 11 एफआईआर दर्ज
  • अब तक 20 से अधिक लोगों को लिया गया हिरासत में
  • फोर्स को मिले देर रात सड़क पर पिस्टल और कारतूस
  • घायलों में 56 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। घायलों में आधे गोली लगने से जख्मी
  • जाफराबाद,कर्दमपुरी,करावल नगर और भजनपुरा में कफ्र्यू
  • अद्र्धसैनिक बलों की 35 कंपनियों को बुलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.