कोरोना से करना है बचाव तो फेफड़ों को रखें साफ

 कोरोना वायरस के खतरे ने सभी को परेशान कर रखा है। चीन के वुहान शहर से शुरू होकर दुनियाभर में हाहाकार मचाने वाला कोविड-19 विश्व के 145 से ज्यादा देशों में कहर बरपा रहा है। ऐसे में दुनियाभर के डॉक्टर कोरोना का इलाज खोजने में लगे हैं।

इस बीच एक डेली मेल पर एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई जिसमें यह कहा गया है कि न्यूयॉर्क में कोरोना के मरीजों को ठीक करने के पीछे विटामिन-सी की डोज हाथ है। इस रिपोर्ट की माने तो हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए विटामिन-सी का सेवन किया जाता है। जो हम रोज ही अपने भोजन में शामिल करते हैं। ये विटामिन शरीर को बिमारियों से लड़ने के सहायक बनाता है। इसी विटामिन को डॉक्टरों ने अब कोरोना मरीजों पर इस्तेमाल किया है, जिसके परिणाम भी बेहतर मिल रहे है।

इस बारे में सेलिब्रिटी न्यूट्रीशनिस्ट और लाइफस्टाइल कोच ल्यूक कौटिन्हो का भी यही कहना है। ल्यूक कौटिन्हो जाने माने ब्लोगर भी है। उनके ब्लॉग पर इस तरह की कई जानकारियां मिल सकती है। जैसे उन्होंने काली चाय को इम्यूनिटी बूस्ट करने का सबसे अच्छा तरीका बताया है। उनका मानना है कि गलत खानपान और आदतों के कारण हम अपनी इम्यूनिटी खराब कर लेते हैं, जिससे जब वायरस और बैक्टीरिया हम पर अटैक करते हैं, तो शरीर अपनी रक्षा नहीं कर पाता है।

इतना ही नहीं, उन्होंने एक वीडियो जारी कर फेफड़े साफ रखने के कुछ टिप्स दिए है। दरअसल, वो मानते हैं कि कोरोना के दौरान और अगर कोरोना से बचना है तो आपको अपने फेफड़े साफ रखने होंगे। अगर आपको जुकाम या कफ है तो फेफड़ों का ख्याल रखना ज्यादा जरूरी है। वो बताते हैं कि अगर हम अपने फेफड़ों को ठीक रख सकें और अपनी इम्यून पॉवर को बढ़ा सके तो हम कोरोना से लड़ सकते हैं।

अपनाएं ये आसान टिप्स
-मेथी के बीजों का करें बेहतर इस्तेमाल, वो कहते हैं कि फेफड़ों को साफ रखने के लिए मैथी दाने का प्रयोग करें। इसके लिए मैथी दानों को रात भर भिगोने के लिए छोड़ दें और सुबह इसे उबाल लें। 5 मिनट के बाद इसे छान कार पीये। ऐसा आपको रोज एक या दो बार करना होगा।

-इसके अलावा योग करें। योग में खास कर  प्राणायाम करें। ये आपके अंदर ऑक्सिजन का संचार बढ़ाएगा। इससे आपके फेफड़े भी स्वस्थ रहेंगे।

-इसके अलावा  रोज खाने पानी से यानी नमक के पानी के गरारे करें। आप पानी में कोई भी नमक जैसे सेंधा या काला नमक भी प्रयोग कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.