सम्भल में सपा नेता और उनके बेटे की गोली मारकर हत्या

सम्भल, बहजोई थाना क्षेत्र के एक गांव में प्रधान पति और उसके बेटे की गोली मारकर मंगलवार को हत्या कर दी गई। पिता-पुत्र गांव से बाहर चल रहे मनरेगा कार्य को देखने गए थे। प्रधान पति सपा नेता था। बताया जा रहा है कि वर्ष 2017 में सपा से प्रधान पति को विधानसभा का टिकट भी मिला था, लेकिन बाद में गठबंधन के चलते कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी उतारा था।

गांव शमशोई में गांव के बाहर मनरेगा का कार्य चल रहा था। ग्राम प्रधान के पति सपा नेता छोटे लाल दिवाकर अपने बेटे सुनील दिवाकर के साथ मनरेगा कार्य को देखने गया था। बताया जाता है कि गांव के ही कुछ लोगों से उनकी पुरानी रंजिश चली आ रही है। जिस स्थान पर मनरेगा का कार्य चल रहा था वहीं पर हमलावरों ने दोनों को घेरकर गोली मार दी। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और मनरेगा का कार्य कर रहा है मजदूर भी भाग गए। सूचना मिलने पर थाना पुलिस के अलावा सीओ मौके पर पहुंच गए। शवों को कब्जे में ले लिया गया है। आरोपितों की तलाश में पुलिस गांव में दबिश दे रही है।

छोटे लाल दिवाकर सपा नेता थे और वर्ष 2017 में चंदौसी विधानसभा से सपा ने इन्हें अपना प्रत्याशी बनाया था लेकिन कांग्रेस से गठबंधन के चलते बाद में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई थी और फिर कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी यहां से उतारा था।  सीओ अशोक कुमार ने बताया कि 2 लोगों की हत्या हुई है।  हत्या करने वाले गांव के ही हैं । पहले से ही रंजिश चली आ रही थी आरोपितों की तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि इस गांव में 1973 में एक ही दिन में ग्यारह लोगों की हत्या हो गई थी। अब तक लगभग बीस लोगों की हत्या हो चुकी है। 

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Translate »