सभी ने घरों में पढ़ी ईद उल फितर की नमाज, लॉकडाउन का भी किया पालन

बुलंदशहर, कोरोना के चलते जनपद के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब ईद की नमाज ईदगाह पर नहीं पढ़ी गई। घरों में ही ईद उल फितर की नमाज अदा की गई। शहरकाजी जैनुल आबिदीन ने भी जामा मस्जिद में नमाज अदा कर अमन-चैन की दुआ मांगी। पुलिस प्रशासन ने ड्रोन कैमरे से ईदगाह सहित अन्य स्थानों की निगरानी की। डीएम रविन्द्र कुमार और एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने ईदगाह सहित खुर्जा और सिकंदराबाद का दौरा किया।

सोमवार को ईद उल फितर का पर्व परंपरागत ढंग से मनाया गया। ईदगाह पर नमाज के प्रतिबंध के चलते अकीदतमंदों ने घरों पर ही ईद की नमाज अदा की। लोगों ने ईद की नमाज घर पर ही अदा करके व्हाट्सएप, फेसबुक और फोन करके एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। नमाज के बाद कोरोना से मुक्ति के लिए भी लोगों ने दुआ मांगी। घरों में सीर आदि व्यंजन बनाए गए। हालांकि लोग एक-दूसरे से न तो गले मिले और घरों पर जाकर ईद की मुबारकबाद दी। भारी पुलिस बल रहा तैनात नगर में ईदगाह के रास्तों पर भारी पुलिस बल सुबह से ही तैनात रहा।

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »