मेवात : हम किसी भी सरकारी सर्वे में कागज नहीं दिखाएंगे – आलम गुमट

मेवात (शब्बीर अहमद) नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ गुमट बिहारी से नगीना तक पैदल मार्च निकाला गया जिसमें 2-3 हजार लोगों ने शिरकत की और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गुमट के विरोध प्रदर्शन में मेवात के नौजवान छात्र और छोटे बड़े बुजुर्ग सभी ने हिस्सा लिया सभी के हाथों में तिरंगा झंडा के साथ काले झंडे दिखाई दिए,और पूरी सड़क पर नो एनआरसी नो सिएए नो एनपीआर लिखा दिखाई दिया गया और गुमट से लेकर नगीना तक हर घर पर हर पेड़ पर काले झंडे दिखाई दिए!

       उसके बाद उलामा और समाजसेवी लोगों ने पूरे प्रदर्शन में आए लोगो के सामने अपनी बात रखी जिसमें मौलाना ताहिर साहब ने सभी प्रदर्शनकारीयों से कहा की यह संविधान को बचाने की लड़ाई है और हम इस लड़ाई को जब तक लड़ेगें जब सरकार तक सरकार इस काले कानून को वापस नहीं लेगी और फारूक अब्दुल्लाह ऐडवोकेट ने कहा की एनआरसी अगर लागू होती है तो इस से पूरे देश के नागरिक का नुकसान है वहीं आलम गुमट ने कहा की हम किसी भी सरकारी सर्वे के लोगों को अपना कोई कागज नहीं दिखाएंगे मुबारिक नोटकी कहा की सभी मुसलमानों को अपनी मस्जिदें आबाद कर के दुआएं मांगनी है, और शाहिद पतरया ने मेवात के लोगों को संबोधित करते हुए कहा की मेवाती मुगल साम्राज्य से नहीं डरे तो इन संघियों से कैसे डर जाएंगे! 
        सभी लोगो ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया और कल बिछोर से सिंगार तक होने वाले प्रदर्शन में हिस्सा लेना का वादा किया और सबसे खास बात यह रही की इस प्रदर्शन में खुर्शीद राजाका के गांव राजाका से सबसे ज्यादा लोगों ने शिरकत की ईकबाल जैताका भी अपने साथ सैंकड़ों लोगों को लेकर शामिल हुए इस प्रदर्शन में सभी ने हिस्सा लिया शिकरवा गांव से पूरी बस भर कर आई और सलामुद्दीन ऐडवोकेट, सलीम उलेटा, मौलाना हामिद, मौलाना इमरान, नाजिम अटेरना, राकिब गुमट, सब्बीर गुमट, मौलाना इरफान, इमरान नगीना हारून नगीना मुबारिक पुन्हाना वसीम साकरस आदि का योगदान रहा!

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Translate »