अमर दुबे की दो दिन पहले ब्याह कर आई पत्नी को गिरफ्तार करने में घिरी कानपुर पुलिस

कानपुर, कुख्यात अपराधी विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद उसकी पत्नी रिचा को छोड़ने और दो दिन पहले ब्याह कर आई अमर दुबे की पत्नी को जेल भेजने में कानपुर पुलिस घिर गई है। सोशल मीडिया पर खाकी की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं। एसएसपी ने बताया कि नवविवाहिता की गिरफ्तारी के दौरान वह बहुत ज्यादा व्यस्त थे। अब वह खुशी की गिरफ्तारी की समीक्षा करने के बाद कोर्ट से 169 की कार्रवाई के तहत उसे मुक्त कराने का प्रयास करेंगे।

चौबेपुर पुलिस ने विकास के मारे गए भतीजे अमर की पत्नी खुशी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। 29 जून को उसकी शादी हुई थी। तीसरे दिन बिकरू कांड हो गया और वह भागकर मायके चली आई थी। पुलिस ने पनकी रतनपुर स्थित मायके से गिरफ्तार करके उसे 8 जुलाई को जेल भेज दिया था। पुलिस ने साजिश का नवविवाहिता को आरोपित बना दिया। जबकि विकास की पत्नी को बिकरू कांड में क्लीन चिट देते हुए पांच घंटे पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया था। पुलिस ने भले ही उसे जेल भेज दिया है लेकिन एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव, सीओ संतोष सिंह और थाना प्रभारी कृष्ण मोहन राय भी उसने क्या साजिश रची साफ नहीं कर सके।

मां ने लगाई गुहार
खुशी की मां ने बताया कि उनकी बेटी दो दिन पहले ही विदा होकर अमर के घर गई थी। उन्होंने उसकी कोई मदद नहीं की है। इसके बाद भी पुलिस ने बेगुनाह बेटी को जेल भेज दिया है। वह एसएसपी के साथ ही आईजी और एडीजी से मिलकर अपनी बात रखेंगी। अगर पुलिस को किसी भी तरह का शक हो तो उनके मोहल्ले वालों से पूछताछ कर सकते हैं। खुशी के पिता श्यामलाल ने बताया कि बेटी की अपराधी से शादी करके फंस गए हैं। उन्हें पहले से मालूम नहीं था।

अमर दुबे की नवविवाहित पत्नी खुशी को जेल भेनने के दौरान मैं विकास की गिरफ्तारी को लेकर बहुत ज्यादा व्यस्त था। इसके चलते कार्रवाई को देख नहीं सका। अगर खुशी बेगुनाह है तो मुकदमे की समीक्षा करके उसे जेल से छुड़ाया जाएगा। –दिनेश कुमार पी, एसएसपी

admin

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper

Translate »
//graizoah.com/afu.php?zoneid=2060010