अखिलेश यादव ने नहीं दीं 5 सीटें, दुखी चंद्रशेखर टीवी पर लगे रोने

लखनऊ, विधानसभा चुनाव को लेकर सपा गठबंधन और चंद्रशेखर आजाद के बीच सीटों को लेकर हुए विवाद का मामला अभी थमा नहीं है। शनिवार को अखिलेश यादव पर दलितों के अपमान का आरोप लगा चुके भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद ने अब कहा है कि यदि सपा अध्यक्ष अपना छोटा भाई कहकर मदद करने को कहें तो बिना शर्त समर्थन को तैयार हूं। एक टीवी इंटरव्यू में अ्पनी बात रखते हुए चंद्रशेखर भावुक भी हो गए। इंटरव्यू में मौजूद ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि वह अखिलेश यादव से चंद्रशेखर के लिए बात करेंगे।

टीवी 9 के एक इंटरव्यू के दौरान चंद्रशेखर आजाद ने कहा, उनका जन्म बहुजन समाज को आगे बढ़ाने के लिए हुआ है। उन्होंने अखिलेश यादव द्वारा दी गईं दो सीटों पर कहा, 25 प्रतिशत दलितों की हैसियत क्या केवल दो सीटों की है। टीवी पर इंटरव्यू के दौरान ओपी राजभर भी मौजूद थे। राजभर से बात करते हुए चंद्रशेखर आजाद बोले, भाजपा को हराने के लिए हम सबको एकता बनानी चाहिए। उन्होंने बताया कि इसी एकता को बनाने के लिए वह अखिलेश यादव के पास गए थे। उन्होंने कहा, गठबंधन में एक भी दलित पार्टी नहीं थी। वह दलितों के हक के लिए सीटें मांग रहे थे। उन्होंने केन्द्र सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा, मोदी ने कई बड़े-बड़े वादे किए थे लेकिन हुआ कुछ नहीं। अखिलेश यादव ने भी मुसलमानों को 18 प्रतिशत रिवर्जेशन का वदा किया था लेकिन पूरी सरकार बीत गई लेकिन कभी इस पर चर्चा तक नहीं हुई। 

चंद्रशेखर आजाद ने कहा, अखिलेश यादव प्रेस कान्फ्रेंस कर ऐलान करें कि भाजपा को रोकने के लिए चंद्रशेखर की जरूरत है तो वह बिना सीट के भी सपा के साथ जानें को तैयार हो जाएंगे। चंद्रशेखर आजाद ने कहा, वह पांच सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार हूं। बातचीत के दौरान आजाद ने राजभर को अपना बड़ा भाई बताते हुए वह भावुक हो गए। उन्होंने कहा, राजभर जी से पूछ लीजिए वह कभी झूठ नहीं बोलते। वह हक की लड़ाई रहे रहें। आजाद बोले, मैं ईमानदार आदमी हूं। उन्होंने कहा, अगर राजभर कहें तो वह सब छोड़ देंगे। राजभर हमारे नेता हैं, हमने कभी इनकी बात नहीं काटी।

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDigg

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper