बिन पकवान…ना भाए मोहै बरखा-बहार, नहीं भूल पाएंगे, भुट्टे के सोहन हलवे का स्वाद

  • दिल्ली,  बारिश की फुहार जब धरती पर गिरती है तो चिपचिपी गर्मी से जहां निजात मिलती है। वहीं बारिश में तरह-तरह के पकवानों को खाने का भी मन करता है। सही मायने में बरखा-बहार का मजा भी तभी आता है जब विभिन्न तरह के पकवान थाली में परोसे गए हों और हल्की-हल्की फुहार मन को अंदर तक भिगो चुकी हो। तो आइए पकौड़े-चाय के अलावा हम आपको बताते हैं कई ऐसे पकवान जो बारिश के मौसम का मजा दुगुना कर देंगे।

नहीं भूल पाएंगे, भुट्टे के सोहन हलवे का स्वाद
इसे बनाने के लिए एक कटोरी भुट्टे को मिक्सी या सिलबट्टे पर दरदरा पीस लें। कड़ाही में घी गर्म करके हल्की फ्लैम पर लाल रंग होने तक भूने। जब भुट्टा भूनने की खूशबू आने लगे तो उसमें खोया मिलाएं और कुछ देर भूनें और उसके बाद चीनी या बूरा मिलाकर पानी डालें और 10-15 मिनट कम फ्लैम में पकने दे। जब इसका पानी सूख जाएगा तो उसमें ड्राईफ्रूट्य व नारियल के गोले का पाउडर डालकर सजाएं।

भुट्टे की खीर के क्या कहने
भुट्टे की खीर बनाने के लिए सबसे पहले फ्रेश व मुलायम भुट्टे के दाने लेने होंगे। इन्हें भुट्टे के अनुसार जितना दूध डालना चाहें उसे प्रेशर कुकर में डालकर पकाएं। तकरीबन 4-5 सीटी के बाद भुट्टे के दाने पक जाएंग। इसमें थोड़ा ओर दुध और चीनी मिलाकर गाढ़ा होने तक पकाएं। याद रखें कि इसे कम फ्लैम पर पकने देना है। जब ये पक जाए तो ऊपर से इलायची व मेवों की कतरन डालकर इसे सजाएं और गरमा-गर्म खाने के लिए परोसे।

हरी मटर की टिक्की होगी बेमिसाल
इसके लिए हरी मटर को सबसे पहले उबाल लें, उसके बाद उसे मसल लें। एक कडाही में घी गर्म करें और उसमें अदरक और हरी मिर्च डालनें के बाद मटर डालें और तब तक पकाएं जब तक ये कडाही के साइड को ना छोड़ दे। इसमें जीरा पाउडर, चाट मसाला, नमक मिला लें और थोड़ा सा चना पाउडर व उबले हुए आलू मिलाएं। इसमें हरा धनिया काटकर मिलाएं और छोटी-छोटी गोल व चपटी टिकिया बनाएं। इसे देसी घी में तवे पर सेकें और धनिया या इमली की चटनी के साथ परोसे।

मूंग दाल के कुरकुरे पकौड़े बनाएंगे दिन खास
मूंग की बिना छिलके वाली दाल को रातभर भिगोकर रखें। इसे सुबह मिक्सी या सिलबट्टे पर बारीक पीस लें। मूंग दाल के पेस्ट में नमक, हींग, भूने हुए साबूत धनिया के दाने, बारीक हरी कटी मिर्च व धनिया को मिलाएं। इसमें चुटकी भर खाने वाला सोडा मिलाएं। अब एक कडाही में वनस्पति तेल या रिफाइंड गर्म करें और छोटी-छोटी पकौडिय़ां सुनहरी होने तक तलें। मूंग की दाल के कुरकुरे पकौड़ों को हरी धनिया की चटनी या पुदीना की चटनी के साथ गरमा-गर्म परोसें। 

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDigg

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper