रायबरेली मेंं समाजसेवी संगठन ने कराई प्रेमी युगल की शादी

(आनंद श्रीवास्तव ) एक दूसरे के प्यार में डूबे प्रेमी युगल को घरवालों की बंदिशें रास नहीं आई। जब परिजनों ने उनका प्यार स्वीकार नहीं किया तो उन्होंने बाबा माधव दास मंदिर पहुंच शादी रचा ली।इस दौरान लड़का और लड़की के घर वाले मौजदू रहे।लेकिन दोनों के प्रेम विवाह से दूरी बनाकर रखी।वही लड़के और लड़की के पिता ने प्रेमी दम्पति को घर से दूर रहने की चेतावनी दी है।

मामला सलोन कोतवाली क्षेत्र के पूरे मीरा मजरे करेमुआ गांव का है।इसी गांव की रहने वाले अनूप राज यादव(19)पुत्र सदाशिव यादव और दलित युवती ममता गौतम(18)पुत्री सुरेंद्र कुमार से पांच वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था।दोनों की मुलाकात गांव में हुई।फिर एक दुसरे को दोनों प्रेमी युगल अपना दिल दे बैठे।घर वालो को पता ना चले इसके लिए दोनों प्रेमी प्रेमिकाओं का मिलना मिलना फिल्मी कहानी की तरह छुप छुप कर चलता रहा।वही जब प्यार परवान चढ़ा और दोनों के घर वालो को पता चला तो दोनों के परिजनों ने युवक और युवती पर बंदिशे लगाना शुरू कर दिया।परिवारों की रजामंदी न मिलने के बावजूद प्रेमी युगल ने एक दूसरे का साथ देने की ठानी।इस बीच मोहब्बत की आग में झुलस रहे प्रेमी युगल अपनी आप बीती जिला धर्म जागरण प्रमुख राम सजीवन गौढ़ तक पहुचाई।जिसके बाद लड़का लड़की और उनके परिजनों को बाबा माधव दास मन्दिर प्रंगण में बुलाया गया।पहले दोनों परिजनों से बात की गई।लेकिन परिजनों ने बेटे और बेटी को अपनाने से इनकार कर दिया।इसके बाद हनुमान मन्दिर में ले जाकर हिन्दू रीति रिवाज से उनकी शादी करा दी गई।वही दोनों प्रेमी युगल के परिजनों ने अपने अपने बच्चो को चेतावनी दी है कि भूल से भी अब उनकी चौखट पर कदम ना रखना।इस सम्बंध में जिला धर्म जागरण प्रमुख राम सजीवन ने कहा है कि दोनों के प्यार करने की जानकारी मिली थी।लड़की दलित जाति से थी इसलिए उन्हें शादी से एतराज था।प्यार किया है कोई चोरी नही की है।संगठन दोनो प्रेमी दम्पति को सुखमय ग्रहस्थ जीवन बसाने आशीर्वाद दिया है।

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDiggTelegram

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper