‘पुलिस की धक्कामुक्की में चिदंबरम और प्रमोद तिवाड़ी की पसली में फ्रैक्चर’

दिल्ली, कांग्रेस पार्टी ने कथित धनशोधन के मामले में राहुल गांधी की प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेशी को लेकर सोमवार को केंद्र सरकार पर तीखा प्रहार किया और आरोप लगाया कि उसने जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करके देश में आतंक फैला दिया है। कांग्रेस नेता व राज्यसभा सांसद रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए दावा किया कि पूर्व गृह मंत्री चिदंबरम के साथ पुलिस ने धक्कामुक्की की जिससे उन्हें चोट आई है। 

सुरजेवाला ने लिखा, “मोदी सरकार बर्बरता की हर हद पार कर गई। पूर्व गृह मंत्री, श्री पी.चिदंबरम के साथ पुलिस की धक्कामुक्की हुई, चश्मा जमीन पर फेंका, उनकी बायीं पसलियों में हेयरलाइन फ्रैक्चर है। सांसद प्रमोद तिवाड़ी को सड़क पर फेंका गया। सिर में चोट और पसली में फ्रैक्चर है। क्या यह प्रजातंत्र है?” उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “सारा दिन बीत गया, हमला जारी है। निशाना बना कर कांग्रेस संगठन महासचिव, श्री के.सी.वेणुगोपाल पर जानलेवा हमला बोला गया। सांसद , शक्ति सिंह गोहिल पर हमला हुआ। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पीटा गया। हजारों जेलों में बंद हैं। प्रजातंत्र को रौंदा गया है

इससे पहले देश की मुख्य विपक्षी दल ने यह दावा भी किया कि राहुल गांधी की ईडी के समक्ष पेशी पर पार्टी के ‘सत्याग्रह’ को रोकने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने नयी दिल्ली इलाके में ‘अघोषित आपातकाल’ लगा दिया। पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं और बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के समर्थन में मार्च निकाला जिसके बाद पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में ले लिया।

कांग्रेस के मार्च और ‘सत्याग्रह’ को देखते हुए पुलिस ने ‘24 अकबर रोड’ (कांग्रेस मुख्यालय) जाने वाले कई रास्तों पर अवरोधक लगा दिए थे और इलाके में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू कर दी थी। इसको लेकर कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम ने कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस कार्यालय के निकट सिर्फ बुल्डोजर नहीं दिख रहा है।

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDigg

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper