CBI देखेगी तमिलनाडु की नाबालिग लड़की का सुसाइड केस, मौत से पहले Video बनाकर लगाया था धर्म परिवर्तन का आरोप

दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो ने तमिलनाडु   में नाबालिग बच्ची के सुसाइड केस  की जांच अपने हाथ में ले ली है. इस नाबालिग ने छात्रावास के वार्डन पर दुर्व्यवहार और उस पर ईसाई धर्म स्वीकार   करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया था. लड़की की मौत के बाद सामने आए एक असत्यापित वीडियो में नाबालिग का कहना है कि उसे परेशान और प्रताड़ित किया गया. क्योंकि उसके परिवार ने ईसाई धर्म अपनाने से इनकार कर दिया था.

इस मामले में लड़की का एक और वीडियो सामने आया था जिसमें 17 वर्षीय स्कूली छात्रा को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उसने जहर खा लिया है क्योंकि उसे इस बात का डर है स्कूल में उसके नंबर कम आएंगे. नाबालिग ने 9 जनवरी को तंजावुर स्थित अपने घर पर जहर खा लिया था. इस मामले में हॉस्टल के वार्डन को गिरफ्तार कर लिया गया है.

नाबालिग लड़की के इन वीडियो को मोबाइल फोन के जरिए बनाया गया था, जिसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है. इन वीडियो को मद्रास हाईकोर्ट को सौंप दिया गया है. अदालत ने पुलिस से कहा है कि मोबाइल फोन पर ये वीडियो रिकॉर्ड करने वाले व्यक्ति को परेशान न किया जाए बल्कि इस मामले की जांच पर ध्यान केंद्रित करे.

वहीं पुलिस का कहना है कि न तो लड़की और न ही उसके माता-पिता ने पहले कभी पुलिस या मजिस्ट्रेट से या मृत्यु से पूर्व बयान में धर्मांतरण का दबाव बनाने का आरोप लगाया था. लेकिन बीजेपी की तमिलनाडु इकाई ने इस केस को जबरन धर्मांतरण का मामला माना है और कार्रवाई की मांग की है.

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDigg

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper