जानें सूतक के प्रभाव से बचने में तुलसी और कुशा का महत्त्व

सतना. अगर आप ग्रहण में कोई शुभ कार्य करते हैं, तो सावधान हो जाइए, क्योंकि ग्रहण से कुछ घंटे पहले और बाद तक लगने वाले सूतक के दौरान इस तरह के कार्यों की मनाही है. ऐसे में सूतक के समय हमें क्या करना चाहिए या सूतक में कुशा और तुलसी का इतना महत्त्व क्यों है,

अमावस्या को सूर्यग्रहण पड़ा और अब कार्तिक पक्ष की पूर्णिमा यानी आज चंद्रग्रहण पड़ेगा. महाभारत कालीन मान्यता के अनुसार 15 दिवस के अंदर दो ग्रहणों का एक साथ पड़ना अशुभ संकेत माना जाता है. ग्रहण कोई भी हो इसमें सबसे बड़ा असर सूतककाल में होता है. आचार्य ने कहा कि जब सूतक लगता है, उस समय तुलसी और कुशा का महत्त्व बढ़ जाता है. उन्होंने बताया कि कुशा एवं तुलसी का उपयोग सभी शुभ कार्यों में किया जाता है, इसका बहुत बड़ा महत्त्व है. किसी भी ग्रहण में सूतक लगना अशुभ माना जाता है. तुलसी एवं कुशा ऐसी वनस्पति हैं, जिन पर सूतक का प्रभाव नहीं पड़ता है.

मंगलवार को इस वर्ष का अंतिम चंद्रग्रहण पड़ने वाला है. चंद्रग्रहण कार्तिक पक्ष की पूर्णिमा को पड़ेगा. ग्रहण से 9 घंटे पहले सूतक शुरू हो जाएगा. चंद्रग्रहण में सूतक लगते ही ग्रहण का प्रभाव शुरू हो जाता है. ऐसे में तुलसी का बहुत बड़ा महत्त्व होता है. किसी भी शुभ कार्य में तुलसी और कुशा का उपयोग जरूर किया जाता है. ग्रहण में सूतक लगते ही सभी चीजें अपवित्र मानी जाती हैं, इसलिए सूतक के समय भोजन या अन्य सामग्री ग्रहण नहीं करनी चाहिए. अगर करना है तो तुलसी का उपयोग जरूर करें, ताकि सूतक के प्रभाव से बचा जा सके.

किसी भी खाद्य सामग्री में तुलसी डालने से सूतक का प्रभाव समाप्त हो जाता है. सभी लोग अपने घरों में सूतक के समय देवस्थल एवं मंदिरों में तुलसी और कुशा का उपयोग करें. जैसे किसी भी पशुपालक के यहां यदि गाय-भैंस ग्रहण के समय बच्चे को जन्म देती है, तो गेरूलगा दिया जाता है, जिससे कि जन्म लेनेवाला बच्चा सूतक के प्रभाव से बचा रहता है. सूर्यग्रहण हो या फिर चंद्रग्रहण यदि सूतक का प्रभाव होता है तो तुलसी का उपयोग करना चाहिए, ताकि हम अशुभ प्रभाव से बच सकें. ऐसा करने से व्यक्ति न सिर्फ परेशानियों से बचता है, बल्कि व्यक्ति के कार्य सफल भी होते हैं.

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDiggTelegram

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper