बागेश्वर धाम में टूटी मजहब की दीवार, मुस्लिम महिला ने लगाये जय श्रीराम के नारे, अपनाया हिंदू धर्म

छतरपुर. बागेश्वर धाम और धीरेंद्र शास्त्री एक बार फिर से चर्चा में हैं. दरअसल बागेश्वर धाम के दिव्य दरबार में उस समय सनसनी फैल गई जब उड़ीसा से आए एक परिवार और छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की ही सुलताना बेगम ने मंच से ही हिन्दू धर्म स्वीकार करने की घोषणा कर दी. उड़ीसा से आए परिवार ने जहां उनके बच्चे का बीमार होना इसकी वजह बताया और दरबार में उसके जल्द ठीक होने की उम्मीद जताई तो वहीं मुस्लिम महिला सुलताना बेगम ने मंच से ही जय श्रीराम के नारे लगाए. सुलताना ने कहा कि हिन्दू धर्म से अच्छा कोई धर्म है ही नहीं.

सुलताना के मुताबिक उनको परिवार ने बहुत पहले ही त्याग दिया है और वो एक हिन्दू युवक से प्रेम करती है और उससे ही शादी करेंगी. सुलताना ने इस दौरान हनुमान जी से लेकर तमाम हिन्दू देवी देवताओं की जयकार करते हुए कहा कि अब वो हमेशा हिंदू धर्म में रहेंगी. सुलताना ने कहा कि वो बिना दबाव के हिन्दू धर्म स्वीकार कर रही है.

गौरतलब है कि बागेश्वर धाम मध्य प्रदेश के छतरपुर में स्थित है. इससे जुड़ा विवाद लगातार बढ़ता ही जा रहा है. बागेश्वर धाम के बाबा धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री इन दिनों लगातार चर्चा में हैं. बागेश्वर धाम सरकार पर महाराष्ट्र की अखिल भारतीय अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति ने जादू-टोना करने का आरोप लगाते हुए उन्हें चुनौती दी थी. दावा है कि इसके बाद पंडित धीरेंद्र शास्त्री रामकथा बीच में ही छोड़कर नागपुर से चले गए. धीरेंद्र शास्त्री के समर्थन में देश के साधु-संतों का एक धड़ा खड़ा है और आंदोलन की चेतावनी भी दे चुका है. सोशल मीडिया में भी इन दिनों धीरेंद्र शास्त्री और बागेश्वर धाम को लेकर मुद्दा जोर शोर से गरमाया हुआ है.

FacebookTwitterPinterestBloggerWhatsAppTumblrGmailLinkedInPocketPrintInstapaperCopy LinkDiggTelegram

Umh News

Umh News India Hindi News Channel By Main Tum Hum News Paper