Uncategorized

कैबिनेट मीटिंग में PM मोदी हुए भावुक

Share News

दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक मेंअपने सभी कैबिनेट सहयोगियों को फिलहाल अयोध्या राम मंदिर जाने से परहेज करने की सलाह दी है. सूत्रों के मुताबिक, पीएम ने सुझाव दिया कि भारी भीड़ और वीआईपी के कारण जनता को होने वाली असुविधा को रोकने के लिए, केंद्रीय मंत्रियों को मार्च में अयोध्या की अपनी यात्रा की योजना बनानी चाहिए. कैबिनेट मीटिंग के दौरान राम मंदिर पर चर्चा के वक्त पीएम मोदी भावुक भी हो गए थे.

इससे पहले, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को एक प्रस्ताव पारित कर अयोध्या में राममंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के सफलतापूर्वक संपन्न होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई दी. मंत्रिमंडल ने कहा कि उन्होंने(मोदी ने) लोगों का सदियों पुराना सपना पूरा किया है. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने संवाददाताओं को बताया कि जैसे ही यहां मंत्रिमंडल की बैठक हुई, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सहयोगी मंत्रियों की ओर से एक प्रस्ताव पेश किया. सिंह ने कहा कि मंत्रिमंडल की बुधवार की बैठक ऐतिहासिक है.

उन्होंने कहा कि भारत में मंत्रिमंडलीय प्रणाली के अस्तित्व में आने के बाद से कई ऐतिहासिक कार्य हुए हैं, लेकिन ऐसा अवसर कभी नहीं आया क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी के माध्यम से जो कार्य किया गया वह इतिहास में अद्वितीय है.

प्रधानमंत्री मोदी की अगुवाई में सोमवार को संपन्न कार्यक्रम में अयोध्या के नवनिर्मित राम जन्मभूमि मंदिर के गर्भगृह में श्री रामलला के नवीन विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा की गई. ठाकुर ने सिंह के हवाले से कहा, “देश को 1947 में आजादी मिली लेकिन ‘उसकी आत्मा की प्राण प्रतिष्ठा’ 22 जनवरी 2024 को संपन्न हुई.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *