Crime News

झांसी : कील ठोंककर पुजारी की हत्या, मंदिर के बाहर लाश फेंकी, खून से सना फर्श धोया

Share News
12 / 100

झांसी में बुधवार को एक मंदिर के पुजारी की हत्या कर दी गई। उसके सिर और नाक में कीलें (सांग) ठोंक दी गईं। पुजारी 25 साल से पूजा कर रहा था, जबकि एक दुकानदार 2 साल पहले धार्मिक स्थल का सर्वेसर्वा बन गया। तब से दान के पैसों के बंटवारे को लेकर विवाद होने लगा।

दुकानदार दान के पैसों में 50 प्रतिशत हिस्सा मांग रहा था, लेकिन पुजारी देने काे तैयार नहीं था। पुजारी के चचेरे भाई के मुताबिक, दुकानदार के भाई ने हत्या कर दी। फिर मंदिर से लाश बाहर फेंककर फर्श धो दिया। घटना चिरगांव थाना क्षेत्र के बरल गांव की है। पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया है।

मृतक का नाम मंगल बाबा (55) पुत्र लालाराम अहिरवार था। वह बरल गांव का रहने वाला था। मृतक के चचेरे भाई भागचंद्र अहिरवार ने बताया कि गांव के पास कुचबंदिया बाबा का मंदिर है। जहां पर मंगल बाबा करीब 25 सालों से पुजारी थे। मंदिर परिसर में ही गांव का मेहरबान अहिरवार प्रसाद की दुकान लगाता था।

धीरे-धीरे उसने अपना रुतबा बना लिया। करीब दो साल पहले मेहरबान मंदिर का ढोंगी महंत बन गया। वो मंदिर के दान का 50 प्रतिशत हिस्सा मांगने लगा। लेकिन, मंगल देने का तैयार नहीं था। इसको लेकर मेहरबान का परिवार रंजिश रखने लगा। मौका मिलते ही वे पैसा भी ले जाते थे।

चचेरे भाई ने बताया कि मंगल बाबा शराब भी पीता था। मंगलवार रात को वह धार्मिक स्थल पर सोया था। वहां पर मेहरबान का भाई भुमानी अहिरवार आया। दोनों के बीच विवाद हो गया। तब आरोपी ने मारपीट कर दी। बेसुध होने पर आरोपी ने मंगल बाबा के सिर में तीन बार मंदिर की लोहे की सांग (कील) ठोंक दी। उसके दाढ़ी के बाल भी उखाड़ दिए। हत्या के बाद लाश मंदिर में पड़ी रही।

सुबह लोगों के मंदिर पहुंचने से पहले ही लाश को बाहर फेंक दिया। खून से सने फर्श को धो दिया गया। इसके बाद मेहरबान के परिवार ने गांव में सूचना दी कि मंगल बाबा मर गया। परिजन मौके पर पहुंचे। इसके बाद वे शव को घर ले गए।

परिजनों ने सुबह करीब 10 बजे पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने कुछ संदिग्धों को उठाया है। उनसे पूछताछ कर रही है। हत्या का आरोपी घर से फरार है। मंगल बाबा की मौत के बाद घर वालों और पत्नी राजकुमारी का रो-रोकर बुरा हाल है। उसके तीन बेटे नेपाल, नंदकिशोर और उमेश हैं, जबकि बेटी का नाम शीला है। ।

चिरगांव थाना प्रभारी तुलसी राम पांडेय ने कहा- मंदिर में दान के पैसों के विवाद को लेकर हत्या की बात सामने आई है। वारदात को भुमानी अहिरवार ने अंजाम दिया है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *