Uncategorized

UAE में प्रधानमंत्री  Modi का भारतीय समुदाय को संबोधन

Share News

अबुधाबी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को UAE पहुंचे। यहां उनका स्वागत गार्ड ऑफ ऑनर के साथ हुआ। UAE के राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने मोदी को गले लगाया।

इसके बाद प्रधानमंत्री ‘अहलन मोदी’ (हेलो मोदी) कार्यक्रम में पहुंचे और UAE में रह रहे भारतीय समुदाय के करीब 65 हजार लोगों को संबोधित किया। कहा- आपने नया इतिहास रच दिया है, यहां हर धड़कन कह रही है कि भारत-UAE दोस्ती जिंदाबाद।

इस मौके पर PM ने अबुधाबी में बने पहले हिंदू मंदिर के लिए जमीन मिलने से जुड़ा वाकया भी बताया। कहा- 2015 में आप सबकी ओर से मैंने यहां एक मंदिर का प्रस्ताव रखा तो उन्होंने एक पल भी गंवाए बिना हां कह दिया। उन्होंने यहां तक कह था कि जिस जमीन पर आप लकीर खींच देंगे, मैं वह आपको दे दूंगा। और देखिए, अब अबुधाबी में भव्य दिव्य मंदिर के लोकार्पण का दिन आ गया है।

PM मोदी 14 फरवरी को राजधानी अबुधाबी में इस देश के पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन करेंगे। 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद यह PM मोदी का 7वां UAE दौरा है। वे PM के तौर पर पहली बार अगस्त 2015 में UAE गए थे।

उन्होंने 2018 और 2019 में भी UAE का दौरा किया था। 2019 में UAE सरकार ने मोदी को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ जाएद’ से नवाजा था। मोदी जून 2022 और जुलाई 2023 में दुबई गए थे। इस दौरान राष्ट्रपति अल नाहयान ने उन्हें फ्रेंडशिप बैंड भी बांधा था।

दुनिया का वह देश जिसकी अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है? हमारा भारत। कौन सबसे तेज मोबाइल डेटा कंजंप्शन कर रहा है। हमारा भारत। कहां सबसे ज्यादा मिल्क प्रोडक्शन होता है। हमारा भारत। सबसे ज्यादा इंटरनेट यूजर्स में नंबर दो पर है। हमारा भारत। दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल मैन्यूफैक्चरर है। हमारा भारत।

हमने अपने संबंधों को बीते कुछ वर्षों में नई ऊर्जा दी है। यूएई भारत का तीसरा बड़ा ट्रेड पार्टनर और सातवां इन्वेस्टर है। आज भी हमारे बीच जो समझौते हुए हैं, वे इसी कमिटमेंट को आगे बढ़ा रहे हैं। हम टेक्नोलॉजी और इनोवेशन के क्षेत्र में दोनों देशों की पार्टनरशिप लगातार मजबूत हो रही है। मैंने अरबी में बोलने की कोशिश की है। अगर उच्चारण में कुछ गलती हो तो यूएई के साथियों से माफी मांगूंगा।

मैंने अरबी में कहा- भारत और यूएई वक्त की कलम से दुनिया की किताब पर एक बेहतर भाग्य का हिसाब लिख रहे हैं। भारत और यूएई की दोस्ती एक साझा दौलत है। हम एक अच्छे भविष्य की बेहतरीन शुरुआत कर रहे हैं। ब सोचिए कलम, हिसाब, जमीन कितनी सहजता से बोले जाने वाले शब्द हैं। सोचिए ये शब्द वहां कैसे पहुंचे है। यह यहां गल्फ से पहुंचें हैं।

कुछ दिन पहले ही वे गुजरात आए थे तब लाखों लोग उनका आभार व्यक्त करने के लिए सड़क के दोनों ओर जमा हो गए थे थे। आभार इसलिए कि वे जिस तरह यूएई में आपका ध्यान रखते हैं, वैसा कम ही देखने को मिलता है। साथियों यह भी मेरा सौभाग्य है कि यूएई ने मुझे अपने सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित किया है। यह सम्मान भी मेरा नहीं है, बल्कि करोड़ों भारतीयों का सम्मान है। जब भी मैं शेख जाएद से मिलता हूं तो वे आप भारतीयों की काफी तारीफ करते हैं। वे यूईई के विकास में आपके योगदान की तारीफ करते हैं। इस स्टेडियम से भी आप भारतीयों के पसीने की खुशबू आती है।

आप यहां समय निकालकर आए मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं। आज हमारे साथ मिनिस्टर और एक्सटर्नल मिनिस्टर शेख नाह्यान भी हैं। भारतीयों के प्रति उनका स्नेह सराहनीय है। हिज हाइनेस शेख जायेद का भी मैं आभारी हूं। गर्मजोशी भरा यह समारोह उनके सहयोग के बिना संभव नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *